Sunday , November 27 2022
Breaking News
Home / BREAKING / नाईट डोमीनेशन आपरेशन सरहद पार से होते हथियारों और विस्फोटक सामग्री की तस्करी को रोकने में होंगे कारगर साबत -डीजीपी

नाईट डोमीनेशन आपरेशन सरहद पार से होते हथियारों और विस्फोटक सामग्री की तस्करी को रोकने में होंगे कारगर साबत -डीजीपी

चंडीगढ़ /जालंधर, 6 नवंबर (ओजी इंडियन ब्यूरो)-मौजूदा सुरक्षा स्थिति के मद्देनज़र पंजाब के डायरैक्टर जनरल आफ पुलिस (डीजीपी) इकबाल प्रीत सिंह सहोता ने शनिवार को सभी सरहदी जिलों के ऐसऐसपीज को सरहद पर चौकसी बढ़ाने और सूचीबद्ध तस्करों की गतिविधियों पर तीखी नज़र रखने के निर्देश दिए हैं।
डीजीपी, जो यहाँ पीएपी कंपलैक्स में जालंधर रेंज और बार्डर रेंज के अधिकारियों के साथ अपराध समीक्षा मीटिंग की अध्यक्षता कर रहे थे, ने सभी सीपीज /ऐसऐसपीज को नशों, ग़ैर-कानूनी माइनिंग और भ्रष्ट गतिविधियों के विरुद्ध ज़ीरो टोलरैंस नीति अपनाने के निर्देश भी दिए। मीटिंग में जालंधर के पुलिस कमिशनर नौनिहाल सिंह, आईजीपी जालंधर रेंज गुरिन्दर सिंह ढिल्लों, आईजीपी बार्डर रेंज मोहनीश चावला और सीपी अमृतसर सुखचैन सिंह गिल भी उपस्थित रहे।
हाल ही में बरामद हुए एक और टिफिन बम का नोटिस लेते हुये डीजीपी इकबाल प्रीत सिंह सहोता ने सरहदी अधिकारियों को हथियारों, गोला बारूद, विस्फोटक और नशा तस्करी के लिए इस्तेमाल किये जा रहे ड्रोनों पर तीखी नज़र रखने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने ज़िला मुखियों को सभी पुलिस थानों और धार्मिक स्थानों पर सीसीटीवी कैमरे लगाने के आदेश भी दिए।
गैंगस्टरों के विरुद्ध कार्यवाही सम्बन्धी बोलते हुये डीजीपी ने सीपीज़ /ऐसऐसपीज को गैंगस्टरों /समग्गलरों और उनके साथियों के डोजियर तैयार करने और उनके विरुद्ध पीऐमऐलए के अंतर्गत कार्यवाही को यकीनी बनाने के लिए कहा।
मीटिंग के दौरान डीजीपी ने सीपीज /ऐसऐसपीज को यह भी हिदायत की कि वह अपने सम्बन्धित क्षेत्रों में नशा तस्करों /सपलायरों के खि़लाफ़ सख़्त कार्यवाही करें। उनको हिदायत की कि वह अपने सम्बन्धित क्षेत्रों में नशा तस्करी के लिए बदनाम विशेष स्थानों की शिनाख़्त करें और नशा बेचने /तस्करी करने वाले सभी व्यक्तियों को पकड़ने के लिए उचित आपरेशन शुरु करें।
उन्होंने ज़िला मुखियों को उनके अधिकार क्षेत्र में पड़ते ऐनडीपीऐस मामलों के सभी भगौड़े अपराधियों (पीओज) और बेल जम्परों को जल्दी से जल्दी पकड़ने के आदेश दिए।
डीजीपी ने लुधियाना, जालंधर, अमृतसर आदि समेत प्रमुख शहरों के सीपीज /ऐसऐसपीज को भी हिदायत की कि वह यात्रियों के लिए निर्विघ्न और मुश्किल रहित यात्रा को यकीनी बनाने के लिए अपनी ट्रैफ़िक प्रबंधन प्रणाली में और सुधार करें।
इस दौरान, डीजीपी ने बार्डर के ऐसऐसपीज को अपने जिलों को सैक्टरों में बाँटने और हर सैक्टर के लिए एक गज़टिड अधिकारी तैनात करने के आदेश दिए, जो कि नाइट डोमीनेशन पर निजी तौर पर मौजूद रहेंगे। उन्होंने भारत-पाक अंतरराष्ट्रीय सरहद के सरहदी जिलों जिनमें पठानकोट, गुरदासपुर, बटाला, अमृतसर ग्रामीण, तरन तारन, फ़िरोज़पुर और फाजिल्का शामिल हैं, में रात 9 बजे से प्रातःकाल 4 बजे तक और सख्त नाइट डोमीनेशन ऑपरेशन करने के आदेश दिए।

About admin

Check Also

प्रकाश सिंह बादल को हुआ ओमीक्रोन, कुछ दिन रहेंगे ICU में

लुधियाना, 24 जनवरी 2022, ओजी इंडियन ब्यूरो- पंजाब के पूर्व मुख्य मंत्री प्रकाश सिंह बादल …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *