Saturday , January 22 2022
Breaking News
Home / BREAKING / कोरोना का नया वेरियेंट बेहद्द खतरनाक, भारत समेत दुनियाभर के देश हुए चौकन्ना,

कोरोना का नया वेरियेंट बेहद्द खतरनाक, भारत समेत दुनियाभर के देश हुए चौकन्ना,

नई दिल्ली, ओजी इंडियन ब्यूरो-26 नवंबर 2021

कोरोना वायरस जो कि एक जानलेवा बीमारी है, अपने पैर फिर से पसार रही है| खबर है कि दक्षिण अफ्रीका में कोरोना वायरस का नया वेरियेंट(B.1.1.529) यानि नया स्वरुप मिला है और जिसके बाद हड़कंप मच गया है| कोरोना के इस नए वेरियेंट को लेकर कहा जा रहा है कि यह बेहद घातक है और कोरोना के संक्रमण को बेहद तेजी से फैला सकता है| यही कारण है कि कोरोना के इस नए वेरिएंट को लेकर भारत में भी सतर्कता बरती जा रही है| दक्षिण अफ्रीका में कोरोना वायरस के एक नए वेरियेंट B.1.1.529 का पता लगने के बाद भारत सतर्क हो गया है। केंद्र सरकार ने राज्यों को सतर्कता बढ़ाने की हिदायत दी है। द. अफ्रीक, बोत्सवाना के अलावा हॉन्ग कॉन्ग में भी कोरोना के नए वेरियेंट के मरीज मिल रहे हैं। कोरोना वेरियेंट काफी घातक साबित हो रहा है।

जानकारी के अनुसार, केंद्र सरकार ने सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों से अलर्ट रहने को कहा है और कोरोना के संबंध में जांच में ढील न बरतने की हिदायत दी है| भारत सरकार ने ने कहा सभी अंतरराष्ट्रीय यात्रियों की कोरोना जांच में कोई ढील न हो| खासकर, द. अफ्रीका से सीधे आने वाले या दक्षिण अफ्रीका के रास्तों से गुजरकर आने वाले लोगों पर कड़ी नजर रखते इनकी कोरोना जांच का पूरा ध्यान रखा जाए| जांच में पॉजिटिव पाए गए लोगों के नमूने तुरंत लैब भेजे जाएं ताकि जिनोम सिक्वेंसिंग के जरिए कोरोना के वेरियेंट का पता चल सके।

देश में लग चुके हैं 120 करोड़ वैक्सिन डोज

विशेषज्ञों के मुताबिक, B.1.1.529  वेरियेंट से काफी तेज रफ्तार से संक्रमण फैलाने की आशंका है।

कोरोना के दौर के बीच भारत में वैक्सीन बड़ी मात्रा में लग चुकी है| लेकिन देखने में आ रहा है कि कोरोना फिर भी हो जा रहा है| इसलिए जब भी कोरोना का कोई नया वेरियेंट आये तो तुरंत यह कहना मुश्किल हो जाता है कि वैक्सीन हमें बचा लेगी| हालांकि, देश में गुरुवार तक कोविड रोधी टीके की 120 करोड़ से अधिक खुराक दी जा चुकी है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने ट्वीट किया, ‘अब तक टीके की 120 करोड़ से अधिक खुराक दी जा चुकी है और इसके साथ ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का हर घर दस्तक अभियान महामारी के विरुद्ध भारत की लड़ाई को मजबूत करता जा रहा है।’

अफ्रीकी देशों की फ्लाइट्स पर रोक शुरू

दुनियाभर के विशेषज्ञ इस वेरियेंट को बड़ा खतरा मान रहे हैं। यही कारण है कि अफ्रीकी देशों की फ्लाइट रोकने का सिलसिला शुरू हो गया है। इजरायल ने सात अफ्रीकी देशों से आने-जाने पर पाबंदियां लगा दी हैं। यूके ने छह अफ्रीकी देशों से आवाजाही पर रोक लगा दी है। वहां की सरकार ने इन देशों की सभी फ्लाइट रोक दी है।

केंद्र सरकार ने राज्यों को किया अलर्ट

इधर, भारत सरकार ने राज्यों से कहा है कि वो सभी अंतरराष्ट्रीय यात्रियों की सघन जांच करे। खासकर, द. अफ्रीका, हॉन्ग-कॉन्ग और बोत्सवाना से सीधे आने वाले या उधर से गुजरने वालों की कड़ी स्क्रीनिंग करने का निर्देश दिया गया है। भारत सरकार ने भी राज्यों को चिट्ठी लिखी, कहा- एयरपोर्ट्स पर कड़ी जांच हो। केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने राज्यों को भेजी चिट्ठियों में कहा है कि ऐसे लोग कहां आ-जा रहे हैं, इस पर नजर रखी जाए। जांच में पॉजिटिव पाए गए लोगों के नमूने तुरंत लैब भेजे जाएं ताकि जिनोम सिक्वेंसिंग के जरिए वेरियेंट का पता चल सके।

नया वेरियेंट पर वैक्सीन भी बेअसर?

वैज्ञानिकों का मानना है कि बोत्सवाना वेरिएंट के ही 32 नए म्यूटेंट बन गए हैं। नए म्यूटेंट, वायरस का सबसे ज्यादा विकसित रूप हैं और ये काफी खतरनाक भी हैं नया बोत्सवाना वेरियेंट टीके के असर को भी खत्म करने में सक्षम है। रिपोर्ट में कहा गया है कि इन 32 म्यूटेंट्स में से कुछ ऐसे हैं जो बहुत तेजी से फैलने वाले और टीके के असर को भी खत्म करने वाले हैं। हालांकि, फ्रांस ने कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों से निपटने के लिए लॉकडाउन या कर्फ्यू लगाने के बजाय वयस्क आबादी को कोविड रोधी टीके की बूस्टर डोज देने का ही फैसला किया है।

About admin

Check Also

उत्तराखंड विधानसभा चुनाव: भाजपा ने 59 उम्मीदवारों की सूची की जारी, सीएम पुष्कर सिंह धामी खटीमा से लड़ेंगे चुनाव

देहरादून, 20 जनवरी 2022,  (ओजी इंडियन ब्यूरो)- भारतीय जनता पार्टी ने उत्तराखंड चुनाव के लिए …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *