Wednesday , July 6 2022
Breaking News
Home / BREAKING / कैप्टन पहुँचे दिल्ली, केंद्रीय मंत्री गजेंदर सिंह शेखावत के साथ करेंगे मुलाकात

कैप्टन पहुँचे दिल्ली, केंद्रीय मंत्री गजेंदर सिंह शेखावत के साथ करेंगे मुलाकात

चंडीगढ़, 17 दिसंबर 2021, (ओजी इंडियन ब्यूरो)-

भारतीय जनता पार्टी और पंजाब लोग कांग्रेस पार्टी के गठजोड को अंतिम रूप देने के लिए पूर्व मुख्य मंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह दिल्ली पहुँच गए हैं। वह अगले तीन दिनों तक दिल्ली में ही रहेंगे और भाजपा के सीनियर नेताओं के साथ मुलाकात करेंगे। कैप्टन ने ज़िला स्तर पर अपनी पार्टी का संगठनात्मक ढांचा खड़ा करना शुरू कर दिया है। ऐसे में सीटों को ले कर तस्वीर स्पष्ट होने के बाद दोनों पार्टियाँ अपनी -अपने क्षेत्र में ज़ोर लगा सकतीं हैं। दोनों पार्टियाँ बीच मुख्य तौर पर सीटों की बाँट को ले कर चर्चा होनी है।

कैप्टन सब से पहले भाजपा केंद्रीय जल शक्ति मंत्री और पंजाब में भाजपा के चयन इंचार्ज गजेंदर सिंह शेखावत के साथ मुलाकात करेंगे। इस मुलाकात बाद में भाजपा के राष्ट्रीय प्रधान जेपी नड्डा और केंद्रीय ग्रह मंत्री अमित शाह के साथ मुलाकात होगी। माना जा रहा है कि भाजपा पंजाब में 70 सीटों पर चयन लड़ सकती है जबकि कैप्टन की पार्टी के लिए 35 सीटों छोड़ीं जाएंगी। कैप्टन की पंजाब लोग कांग्रेस पार्टी की यह पहली चयन है। इस लिए निचले स्तर पर अभी पार्टी का ढांचा भी नहीं बन सका और बाकी 12 सीटें सुखदेव सिंह ढींडसा की पार्टी के लिए छोड़ीं जाएंगी।

जब तक कैप्टन की भाजपा के सीनियर नेताओं के साथ मीटिंग नहीं हो जाती तब तक तस्वीर स्पष्ट नहीं हो सकेगी। बताया जा रहा है कि अब चयन कमीशन की टीम ने दौरा कर लिया है, जिस से यह संकेत मिलते हैं कि चयन विवरण जनवरी के पहले या दूसरे हफ़्ते लग जायेगा। इस लिए अब गठजोड को ले कर ज़्यादा देर करन का मतलब नहीं रह जाता क्योंकि गठजोड और सीटों को ले कर तस्वीर स्पष्ट होने के बाद दोनों ही पार्टियाँ अपनी अपने विधान सभा क्षेत्रों में ज़ोर लगा सकतीं हैं। भाजपा पूरे पंजाब में चयन लडने जा रही है। अकाली दल के साथ गठजोड में रहते हुए भाजपा कभी भी 23 सीटों से ज़्यादा पर चयन नहीं लड़ सकी।

About admin

Check Also

प्रकाश सिंह बादल को हुआ ओमीक्रोन, कुछ दिन रहेंगे ICU में

लुधियाना, 24 जनवरी 2022, ओजी इंडियन ब्यूरो- पंजाब के पूर्व मुख्य मंत्री प्रकाश सिंह बादल …

Leave a Reply

Your email address will not be published.