Saturday , January 22 2022
Breaking News
Home / BREAKING / किसान -मज़दूरों ने जाम किये रेलवे के चक्के, किसान बैठेंगे पटड़ी पर, रेलवे स्टेशनें पर चौकसी रखने के निर्देश

किसान -मज़दूरों ने जाम किये रेलवे के चक्के, किसान बैठेंगे पटड़ी पर, रेलवे स्टेशनें पर चौकसी रखने के निर्देश

फिरोज़पुर, 20 दिसंबर 2021, (ओजी इंडियन ब्यूरो)-

सोमवार से किसान मज़दूर संघर्ष समिति के बुलाऐ पर पंजाब में चार स्थानों पर रेल पटड़ियाँ पर रेलों रोकी जाएंगी। अमृतसर -ब्यास रेल मार्ग पर जंडियाला -मानवाला, जालंधर -पठानकोट रेल मार्ग पर टांडा उड़मुड़, फ़िरोज़पुर में टेक वाला RUB और अमृतसर -खेमकरन रेल मार्ग पर तरनतारन के बीच। रेलवे ने स्थिति को देखते हुए रूट में कुछ बदलाव किये हैं। हालाँकि यह तय है कि इस कारण यात्रियों को परेशानी होगी। कुछ स्थानों पर, रेल गाड़ियों को बंद कर दिया गया है।

दिल्ली की सरहद पर ताकत के प्रदरशन के बाद अब पंजाब में भी किसान अपनी ताकत दिखाऐंगे। किसानों ने आज से पंजाब के टोल प्लाज़ा पर धरना प्रदरशन करन का ऐलान किया है। भारतीय किसान यूनियन और किसान मज़दूर संघर्ष समिति खोज दरों में किये वृद्धि ख़िलाफ़ आज से आंदोलन करेगी। किसान नेताओं की माँग है कि पंजाब में पुराने टोल दरों को फिर लागू किया जाये। इस कारण आज नौ टोल प्लाज़ा पर किसानों की हड़ताल जारी रहेगी।

खोज दरों में किये वृद्धि के विरोध में भारतीय किसान यूनियन (उग्राहां) की तरफ से पंजाब सरकार ख़िलाफ़ यह आंदोलन सूबे भर में जारी रहेगा। इस का प्रभाव अमृतसर, तरनतारन, फ़िरोज़पुर और होशियारपुर में ज़्यादा देखा जा सकता है। दूसरे तरफ़ तीन खेती कानूनों को वापस ले कर दिल्ली से लौटे किसान मज़दूर संघर्ष समिति के नेताओं ने 20 दिसंबर से सूबा स्तरीय रेल जाम करन का ऐलान किया है। यानि कुल मिला कर किसान आंदोलन की तस्वीर अभी बाकी है।

ज़िक्रयोग्य है कि किसान मज़दूर संघर्ष समिति ने 20 दिसंबर से ‘रेल रोको ’ का न्योता दिया हुआ है। उसका प्रदरशन अणमित्थे समय के लिए है। रेलवे के फ़िरोज़पुर डिविज़न ने प्रदरशन को देखते मुलाजिमों की छुट्टियाँ या आराम रद्द कर दीं हैं। डिविज़न की तरफ से हिदायतें जारी की गई हैं कि यदि रेल गाड़ीयाँ की यातायात को रोकनो की ज़रूरत है तो रेल गाड़ीयाँ को सिर्फ़ बड़े स्टेशनें पर ही रोका जाये, जहाँ यात्रियों के लिए ज़रूरी सहूलतें उपलब्ध हो सकें।

भारतीय किसान यूनियन (उग्राहां) की तरफ से ऐलान किया कि 20 दिसंबर से किसान पंजाब भर में सूबा स्तरीय रेल जाम करेंगे। जब तक टोल दरों को वापस नहीं लिया जाता, तब तक सूबो के नौ टोल प्लाज़ा पर किसानों की हड़ताल जारी रहेगी।

डिवीज़न के रेलवे स्टेशनें पर टोंटियों में खाने -पीने की वस्तुएँ और पानी की निर्विघ्न स्पलाई को यकीनी बनाने के लिए भी कहा गया है। किसी भी जगह पर ज़रूरत पड़ने पर ओवरहैड्ड बिजली की तारों की स्पलाई भी बंद की जा सकती है। सभी गेटमैनें को हिदायत की गई है कि वह सम्बन्धित स्टेशन मास्टर और व्यवस्था स्टेशन मास्टर को अपने फाटकों के आस आसपास की स्थिति बारे तुरंत सूचित करे।

About admin

Check Also

उत्तराखंड विधानसभा चुनाव: भाजपा ने 59 उम्मीदवारों की सूची की जारी, सीएम पुष्कर सिंह धामी खटीमा से लड़ेंगे चुनाव

देहरादून, 20 जनवरी 2022,  (ओजी इंडियन ब्यूरो)- भारतीय जनता पार्टी ने उत्तराखंड चुनाव के लिए …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *