Saturday , January 22 2022
Breaking News
Home / BREAKING / मजीठिया से बिना शर्त माफी माँग कर केजरीवाल ने पीड़ित परिवारों के साथ किया विश्वासघात-चन्नी

मजीठिया से बिना शर्त माफी माँग कर केजरीवाल ने पीड़ित परिवारों के साथ किया विश्वासघात-चन्नी

ढोलबाहा, (होशियारपुर) 24 दिसम्बर 2021, (ओजी इंडियन ब्यूरो)-

पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने आज यहाँ कहा कि जिन परिवारों ने नशे के कारण अपने पुत्र गंवाएं हैं, वे इस घृणित पाप के लिए बादलों, केजरीवाल और कैप्टन को कभी भी माफ नहीं करेंगे।

आज यहाँ महाराणा प्रताप सरकारी कालेज का उद्घाटन करने के मौके पर एक रैली को संबोधन करते हुये मुख्यमंत्री ने कहा कि बादल, भाजपा, कैप्टन और केजरीवाल यह सभी पंजाब के दोषी हैं क्योंकि इन्होंने राज्यय में नशे को संरक्षण दिया है। उन्होंने कहा कि सत्ता में रहते हुये बादलों, भाजपा और कैप्टन ने नशे की तस्करी में लगे लोगों को बचाने का काम किया जबकि अकाली नेता बिक्रम मजीठिया से बिना शर्त माफी माँग कर केजरीवाल ने पंजाबियों की पीठ में छुरा घोंपा है। साथ ही मुख्यमंत्री ने इस मौके पर प्रण करते हुये कहा कि उनकी सरकार राज्यय में से नशे का सफाया करके रहेगी और इस दिशा में कानून ने अपना काम करना शुरू कर दिया है।

बादलों और कैप्टन पर वार करते हुये मुख्यमंत्री ने कहा कि इन धनाढ़ लोगों ने सत्ता में होते राज्यय की संपदा को गलत तरीके से हथियाने का काम किया है। उन्होंने कहा कि यह लोग जब भी सत्ता में होते हैं तो यह लोगों की फिक्र नहीं करते और बेरहमी से सरकारी खजाने की लूट होने देते हैं। मुख्यमंत्री चन्नी ने कहा कि उनकी सरकार ने इस बुरी प्रथा को बदला और करदाताओं का पैसा अब राज्य के लोगों की भलाई और राज्य की तरक्की पर ख़र्च होने लगा है।

मुख्यमंत्री ने स्पष्ट तौर पर कहा कि पंजाब के प्रति धोखा करने वाले एक भी व्यक्ति को बख़्शा नहीं जायेगा। उन्होंने राज्य के लोगों को जाति, रंग भेद या धर्म से ऊपर उठ कर अपने सभी भिन्नताऐं भुला कर कांग्रेस पार्टी की हिमायत करने की अपील की। मुख्यमंत्री चन्नी ने कहा कि यह समय की माँग है कि हम पंजाब के खजाने को लूटने की ताक रखने वाले गिद्धों से अपने राज्य को बचाएं।

मुख्यमंत्री ने आगे कहा कि पंजाब में एक क्रांतिकारी बदलाव आया है और पहली बार है कि किसी धनाढ़ या रजवाड़े की बजाय उन जैसे एक साधारण व्यक्ति के हाथ में कमान आई है। उन्होंने कहा कि उनकी सरकार का मकसद है कि सबको राज्य के स्त्रोतों में बराबर की भागीदारी मिले। मुख्यमंत्री चन्नी ने कहा कि राज्य सरकार की लोक समर्थकी नीतियों की कड़ी के अंतर्गत लोगों के 1500 करोड़ रुपए के बिजली बिलों के बकाए माफ किये गए हैं, घरेलू बिजली के रेट 3रुपए प्रति यूनिट सस्ते किये गए हैं, ग्रामीण क्षेत्रों में जल सप्लाई स्कीमों की मोटरों के 1200 करोड़ रुपए के बकाए माफ किये गए हैं और आगे के लिए पानी का मासिक बिल केवल 50 रुपए कर दिया गया है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार श्री गुरु रविदास जी के जीवन और दर्शन से सीख लेकर एक समानतावादी समाज की सृजन करने के लिए सख़्त मेहनत कर रही है। उन्होंने कहा कि लोगों की तरक्की के लिए हरेक फ़ैसला समाज के सभी वर्गों के हितों को ध्यान में रखते हुये लिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि उनका मुख्य एजेंडा लोगों को साफ़ सुथरा, पारदर्शी और जवाबदेह प्रशासन उपलब्ध करवा के पंजाब को देश का सबसे अग्रणी राज्य बनाना है।

इस मौके पर मुख्यमंत्री ने शाम चौरासी विधान सभा हलके सर्वपक्षीय विकास के लिए 10 करोड़ रुपए की ग्रांट देने का ऐलान भी किया। उन्होंने जनौड़ी के अस्पताल को अपग्रेड करने, इलाके में स्टेडियम बनाने और हरियाणा के राम लीला ग्राउंड को अपग्रेड करने का ऐलान भी किया।

इससे पहले वन मंत्री संगत सिंह गिलजियां और कांग्रेसी नेता अलका लांबा ने अपने संबोधन में मुख्यमंत्री की तरफ से लोक हित के फ़ैसलों के लिए उनकी सराहना की। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री चन्नी की तरफ से पद संभालने के बाद राज्य में विकास के एक नये युग की शुरूआत हुई है।

इस दौरान शाम चौरासी के विधायक पवन कुमार आदिया ने मुख्यमंत्री को यहां पहुँचने पर सुस्वागतम कहा।

इस मौके पर विधायक श्री सुंदर शाम अरोड़ा भी उपस्थित थे।

 

About admin

Check Also

उत्तराखंड विधानसभा चुनाव: भाजपा ने 59 उम्मीदवारों की सूची की जारी, सीएम पुष्कर सिंह धामी खटीमा से लड़ेंगे चुनाव

देहरादून, 20 जनवरी 2022,  (ओजी इंडियन ब्यूरो)- भारतीय जनता पार्टी ने उत्तराखंड चुनाव के लिए …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *