Sunday , January 16 2022
Breaking News
Home / BREAKING / स्टार्टअप पंजाब द्वारा पंजाब स्टेट काउंसिल फॉर साइंस एंड टेक्नोलॉजी के साथ समझौता सहीबद्ध

स्टार्टअप पंजाब द्वारा पंजाब स्टेट काउंसिल फॉर साइंस एंड टेक्नोलॉजी के साथ समझौता सहीबद्ध

चण्डीगढ़, 28 दिसंबर 2021, (ओजी इंडियन ब्यूरो)-

राज्य में उद्यमिता एवं नवाचार को और अधिक बढ़ावा देने के उद्देश्य से स्टार्टअप पंजाब सैल ने आज यहाँ उद्योग भवन में आयोजित समारोह के दौरान पंजाब स्टेट काउंसिल फॉर साइंस एंड टेक्नोलॉजी के साथ समझौते (एमओयू) पर हस्ताक्षर किए।

उद्योग एवं वाणिज्य के सचिव-सह-निदेशक सिबिन सी, जो स्टेट स्टार्टअप के नोडल अफ़सर भी हैं, ने स्टार्टअप पंजाब द्वारा एमओयू पर हस्ताक्षर किए, जबकि पंजाब स्टेट काउंसिल फॉर साइंस एंड टेक्नोलॉजी द्वारा कार्यकारी निदेशक डॉ. जतिन्दर कौर अरोड़ा ने हस्ताक्षर किए।

स्टार्टअप पंजाब और पंजाब स्टेट काउंसिल फॉर साइंस एंड टेक्नोलॉजी ने पंजाब के उद्यमिता पारिस्थितिकी तंत्र को मज़बूत करने के लिए नेटवर्क, संबंधों, प्रौद्यौगिकी, ज्ञान और प्रबंधन पहलूओं के संदर्भ में अपनी-अपनी संस्थागत महारत प्रदान करके स्टार्टअप को सहयोग देने के लिए मिलकर काम करने का प्रण लिया है।

सिबिन सी ने कहा, ‘‘पंजाब में उद्यमिता की कई दशकों पुरानी समृद्ध परंपरा है और पंजाबियों ने विभिन्न क्षेत्रों जैसे कि कृषि एवं खाद्य प्रसंस्करण, कपड़ा, फार्मास्यूटीकल, आई.टी./आई.टी.ई.एस., स्टील, निर्माण आदि में मज़बूत कारोबार स्थापित किए हैं।’’ उन्होंने आगे कहा कि स्टार्टअप पंजाब मेंटरशिप, वित्तीय, इनक्यूबेशन और अन्य सहायता प्रदान कर राज्य के स्टार्टअप ईकोसिस्टम को मज़बूत करने के लिए प्रतिबद्ध है।

उन्होंने कहा कि पंजाब स्टेट काउंसिल फॉर साइंस एंड टेक्नोलॉजी के साथ यह समझौता स्टार्टअप्स को आई.पी. (इंटलेक्चुअल प्रॉपर्टी) और तकनीकी सहायता प्रदान करते हुए राज्य में स्टार्टअप और इनोवेशन ईकोसिस्टम को बढ़ावा देने के लिए तकनीकी सहायता प्रदान करेगा। उद्यमी अपने विचारों को आगे बढ़ाने के लिए अनुसंधान और विकास सम्बन्धी सहायता और व्यापारिक एवं तकनीकी सलाह का लाभ ले सकते हैं।

पीएससीएसटी के कार्यकारी निदेशक डॉ. जतिन्दर कौर अरोड़ा ने कहा, ‘‘ पंजाब स्टेट काउंसिल फॉर साइंस एंड टेक्नोलॉजी हमेशा ही पंजाब के उभरते उद्यमियों और इनोवेटरों के साथ खड़ी रही है और उनकी महत्वाकांक्षाओं को पूरा करने के लिए सहयोग दिया है। स्टार्टअप पंजाब के साथ यह साझेदारी स्टार्टअप्स को प्रोटोटाइप विकसित करने में मदद करने के साथ-साथ उद्यमियों को पेटेंट सहायता प्रदान करने के लिए अनुसंधान एवं विकास और तकनीकी सहायता प्रदान करेगी।’’

सिबिन सी ने आगे कहा, ‘‘स्टार्टअप पंजाब सैल विभिन्न वर्कशॉप, बूटकैंप और पार्टनरशिप के द्वारा पंजाब के स्टार्टअप ईकोसिस्टम को बढ़ावा देने के लिए लगातार काम कर रहा है। राज्य में उद्यमिता को प्रोत्साहित करने के लिए स्टार्टअप पंजाब औद्योगिक और व्यापार विकास नीति (आई.बी.डी.पी), 2017 में दर्शाए अनुसार विभिन्न वित्तीय प्रोत्साहन जैसे कि सीड फंडिंग, ब्याज सब्सिडी, लीज़ रेंटल सब्सिडी प्रदान करता है। इसके अलावा सभी प्रोत्साहन जो एम.एस.एम.ई. इकाइयों के लिए उपलब्ध हैं, आई.बी.डी.पी. 2017 के अनुसार स्टार्टअप इकाइयों के लिए उपलब्ध हैं।’’

स्टार्टअप पंजाब की कुछ ताज़ा पहलों में पंजाब छात्र उद्यमिता योजना (तकनीकी शिक्षा विभाग एवं उच्च शिक्षा विभाग के सहयोग से) जो उद्यमिता और नवाचार की पढ़ाई करने वाले विद्यार्थियों हैं उनके लिए उनकी यूनिवर्सिटी/कॉलेज में अकादमिक पाठ्यक्रमों में 20 $फीसदी हाजिऱी की छूट और 4 $फीसदी ग्रेस अंक प्रदान करेगी, 500-सीटर स्टार्टअप पंजाब हब (न्यूरॉन) एस.टी.पी.आई. मोहाली जो स्टार्टअप्स को प्लग-एन-प्ले स्पेस प्रदान करेगा, जहाँ एक अत्याधुनिक ए.आई./डेटा विश्लेषण लैब है, इनक्यूबेटर मैनेजरों की क्षमता निर्माण के लिए राज्य के इनक्यूबेटरों के लिए छह मास्टर क्लासों की श्रृंखला का आयोजन, राज्य के युवाओं के लिए नवोदित उद्यमिता कार्यक्रम और अन्य कई पहलें शामिल हैं। पंजाब इनोवेशन मिशन, निजी तौर पर चलाई गई संस्था, जो कालकट भवन मोहाली में सैक्टर-अग्नोस्टिक इनक्यूबेटर और एक्सेलेरेटर चलाएगी और पंजाब इनोवेशन फंड की स्थापना भी करेगी, को स्टार्टअप पंजाब सैल सहायता प्रदान कर रहा है।

About admin

Check Also

कोरोना: 24 घंटे में के 2.68 लाख नए केस, 402 मौतें, संक्रमण दर में दो प्रतिशत का इजाफा

नई दिल्ली, 15 जनवरी 2022, (ओजी इंडियन ब्यूरो)-  भारत में पिछले 24 घंटे में कोरोना …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *